विशेष


  • मप्र में कई जगह पूजा होती है दशानन की  (15:21)
    भोपाल, 3 अक्टूबर (आईएएनएस)। विजयादशमी के मौके पर बुराइयों के प्रतीक रावण, कुंभकरण और मेघनाद के पुतले का दहन होता है, मगर मध्यप्रदेश में कई इलाके ऐसे हैं जहां रावण की विजयादशमी के मौके पर पूजा होती है।
  • नवरात्रि पर घर-घर पूजी जाने वाली कन्याओं का हाल अच्छा नहीं झारखंड में, देखें आंकड़े  (14:02)
    रांची, 3 अक्टूबर (आईएएनएस)। नवरात्रि की नवमी तिथि पर मंगलवार को झारखंड में घर-घर कन्याएं पूजी जायेंगी, लेकिन जमीनी तौर पर देखें तो राज्य में कन्याओं का हाल अच्छा नहीं है। खेलने-पढ़ने की उम्र में ही लड़कियों पर गृहस्थी और मातृत्व का बोझ डाल दिया जा रहा है। जनगणना से लेकर एनएफएचएस (नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे) तक के आंकड़े इसकी गवाही देते हैं। राष्ट्रीय फैमिली हेल्थ सर्वे-5 की वर्ष 2020-21 की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक 32.2 फीसदी मामले बाल विवाह को लेकर दर्ज किए गए हैं। यानी यहां हर दस में से तीन लड़की बालपन में ब्याह दी जा रही है। राज्य में लड़कियों की खराब सेहत, खास तौर पर उनमें खून की कमी की बीमारी एनीमिया गंभीर चिंता का विषय है।
  • झारखंड के चार देवी पीठों में होता है 16 दिनों का नवरात्रि अनुष्ठान, उमड़ रहे श्रद्धालु  (12:15)
    रांची, 2 अक्टूबर (आईएएनएस)। नवरात्रि पर नौ तिथियों में देवी के नौ रूपों की पूजा-आराधना होती है, लेकिन झारखंड में चार ऐसे देवी पीठ हैं जहां शारदीय नवरात्र पर 16 दिनों का अनुष्ठान होता है। विशिष्ट परंपराओं, मान्यताओं और ऐतिहासिक कहानियों वाले इन देवी स्थलों पर हर नवरात्र में बड़ी तादाद में श्रद्धालु जुटते हैं। इस वर्ष 26 सितंबर को नवरात्रि की शुरूआत हुई है, जिसका समापन आगामी 4 अक्टूबर को होगा। झारखंड के इन चार मंदिरों में सात दिन पूर्व 19 सितंबर को जिउतिया (जीवित्पुत्रिका व्रत) नामक पर्व के अगले दिन यानी आश्विन कृष्ण पक्ष नवमी को कलश स्थापना के साथ नवरात्र अनुष्ठान प्रारंभ हो गये।
  • एक ऐसा गांव, जहां 182 वर्षों से जारी है रामलीला का सांस्कृतिक सफर  (11:30)
    कुशीनगर, 2 अक्टूबर (आईएएनएस)। देश की राजधानी दिल्ली से लेकर अयोध्या और देश के कोने- कोने में रामलीलाओं का मंचन हो रहा है। इनमें बड़े किरदार आते हैं। चर्चा होती है, लेकिन एक गांव ऐसा भी है जो तमाम ताम-झाम से दूर 182 साल से लगातार रामलीला का मंचन कर रहा है। इसके पात्र और दर्शक ग्रमीण ही होते हैं। इस गांव ने न केवल रामलीला की सांस्कृतिक मशाल को जलाए रखा है, बल्कि देश-विदेश के अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने वाली अनेक प्रतिभाएं भी दी हैं।
  • लोकसभा चुनाव को देखते कांग्रेस ने यूपी में खेला दलित कार्ड  (17:58)
    लखनऊ, 1 अक्टूबर (आईएएनएस)। कांग्रेस ने यूपी में ब्रजलाल खाबरी को प्रदेश अध्यक्ष बनाकर दलित कार्ड खेला है। लोकसभा चुनाव को देखते हुए उन्होंने अन्य पार्टियों से इतर दलित पर दांव लगाया है। इस बार कांग्रेस ने 2024 में जीत हासिल करने के लिए बीएमडी फॉमूर्ला (ब्राह्मण, दलित और मुस्लिम) पर भरोसा दिखाया है।