विशेष


  • यूपी चुनाव: मुख्यमंत्री योगी और दोनों डिप्टी सीएम इस बार लड़ सकते हैं विधानसभा चुनाव  (18:24)
    नई दिल्ली, 24 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्य के दोनों उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्य इस बार विधानसभा चुनाव लड़ सकते हैं। यह जानकारी पार्टी सूत्रों ने दी है। भाजपा सूत्रों का कहना है कि तीनों बड़े नेताओं को चुनाव लड़ाकर पार्टी खास माहौल बनाना चाहती है। वहीं इससे विपक्ष को भी संदेश जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर या अयोध्या की सीट से चुनाव लड़ सकते हैं, वहीं केशव प्रसाद मौर्य कौशांबी की सिराथू और दिनेश शर्मा लखनऊ से विधानसभा चुनाव लड़ सकते हैं।
  • सपा कांग्रेस के बाद बसपा को भी भाने लगी 'सॉफ्ट हिन्दुत्व' की राह  (15:30)
    लखनऊ , 24 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सपा,कांग्रेस के बाद बहुजन समाज पार्टी (बसपा) भी अब सॉफ्ट हिन्दुत्व की राह में चलने की कोशिश में लगी है। राजनीतिक पंडितों की मानें तो जिस प्रकार से बसपा ने अयोध्या से ब्राम्हण सम्मेलन प्रबुद्घ वर्ग संगोष्ठी की शुरुआत की है उसके पहले हनुमान गढ़ी फिर रामलला के दर्शन अपने कार्यकाल में मंदिर निर्माण पूरा कराने या मथुरा, काशी में होने वाले सम्मेंलन की बात से संकेत हैं कि आने वाले समय में बसपा भी सॉट हिन्दुत्व की लाइन को पकड़कर चलने जा रही है।
  • कश्मीर में पेगासस : घाटी में भी 25 से अधिक लोगों की निगरानी की कोशिश : रिपोर्ट  (19:16)
    नई दिल्ली, 23 जुलाई (आईएएनएस)। इजरायली कंपनी एनएसओ समूह की ग्राहक, एक अज्ञात सरकारी एजेंसी द्वारा दिल्ली के कश्मीरी पत्रकारों और जम्मू-कश्मीर के प्रति आधिकारिक नीति की आलोचना करने वाले एक प्रमुख नागरिक समाज के कार्यकर्ता के अलावा कश्मीर घाटी के 25 से अधिक लोगों को 2017 और 2019 के बीच निगरानी के संभावित लक्ष्य के रूप में चुना गया था।
  • कमलनाथ-दिग्विजय सिंह के बीच बढ़ रही दूरी !  (16:55)
    भोपाल, 20 जुलाई (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की एकजुटता के चलते वर्ष 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज कर लगभग डेढ़ दशक बाद सत्ता में आ पाई थी, मगर आपसी टकराव ने महज 15 माह में उसके हाथ से सत्ता छीन ली। अब कांग्रेस विपक्ष में है और फिर बड़े नेताओं में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के बीच दूरियां बढ़ने के संकेत मिलने लगे हैं।
  • आईआईटी का कमाल, बोतल में डाली जिंदगी !  (14:43)
    कानपुर, 20 जुलाई (आईएएनएस)। कोरोना की दूसरी लहर में इस बार ऑक्सीजन की कमी ने लोगों को काफी दिक्कत में डाला है। इसी समस्या को देखते हुए आईआईटी कानपुर ने 'स्वासा' ऑक्सीराइज बनाया है। यह शरीर के आक्सीजन लेवल को बढ़ाता है। यह एक बोतलनुमा उपकरण है। जिसे कहीं भी बड़े आराम से ले जाया जा सकता है और इमरजेंसी में ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा कर सकते हैं। इसे आईआईटी कानपुर इंक्यूबेशन सेंटर में बनाया गया है। यह पोर्टेबल ऑक्सीजन कैनेस्टर है।
  • बंगाल भाजपा ने बनाई समस्याओं से निपटने की रणनीति  (18:52)
    कोलकाता, 19 जुलाई (आईएएनएस)। पार्टी की मौजूदा समस्या से निपटने और लोगों तक पहुंचने के लिए भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई ने कई रणनीतियां बनाई हैं। प्रदेश भाजपा नेतृत्व ने न केवल लोगों के साथ अपने अंतर्वैयक्तिक (इंटर-पर्सनल) संबंध बढ़ाने की योजना बनाई है, बल्कि असंतुष्ट नेताओं को संभालने के लिए एक रूपरेखा भी तैयार की है।
  • मप्र में भाजपा ने शुरु की उप-चुनाव की तैयारियां  (16:10)
    भोपाल, 19 जुलाई (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में भाजपा उप-चुनावों की तैयारियां में जुट गई है और मतदाताओं को लुभाने के लिए सरकार ने अपने दांव चलने भी शुरु कर दिए हैं। इसकी शुरुआत खंडवा संसदीय क्षेत्र के बुरहानपुर से हुई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां का एक दिवसीय दौरा कर कई वादे किए, जिस पर कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री अरुण यादव ने तंज कसा है।