रक्षा/सुरक्षा


  • स्वदेशी उन्नत व हल्का हेलिकॉप्टर 'एमके थ्री स्क्वाड्रन' भारतीय तटरक्षक बल में शामिल(21:06)
    नई दिल्ली, 28 जून (आईएएनएस)| 835 स्क्वाड्रन (सीजी) को भारतीय तटरक्षक बल की सेवा में शामिल किया गया। यह एक स्वदेशी उन्नत हल्का हेलीकॉप्टर (एएलएच) एमके थ्री स्क्वाड्रन है। इस स्वदेशी एएलएच एमके ककक हेलीकॉप्टर का निर्माण हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने किया है। इनमें उन्नत रडार सहित इलेक्ट्रो ऑप्टिकल सेंसर, शक्ति इंजन, पूरी तरह से ग्लास कॉकपिट, उच्च-तीव्रता वाली सर्चलाइट, उन्नत संचार प्रणाली, स्वचालित पहचान प्रणाली के साथ-साथ एसएआर होमर जैसे अत्याधुनिक उपकरण हैं।
  • कानून व्यवस्था में सुधार लाएगा पंजाब : मान(17:57)
    चंडीगढ़, 25 जून (आईएएनएस)| पंजाब के गैंगस्टरों को खत्म करने के लिए सरकार की प्रतिबद्धता दोहराते हुए मुख्यमंत्री भगवंत मान ने शनिवार को व्यापक कानून-व्यवस्था में सुधार लाने की घोषणा की।
  • अग्निवीर सैनिको के लिए तैयार की गई शैक्षिक योजना(22:04)
    नई दिल्ली, 24 जून (आईएएनएस)| शिक्षा मंत्रालय की मदद से इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) ने अग्निवीर सैनिको के लिए शैक्षिक योजना तैयार की है। यह अग्निपथ योजना के सैनिकों के लिए तीन वर्षीय स्नातक पाठ्यक्रम होगा। किताबी पढ़ाई के अलावा यह कार्यक्रम में थल सेना, नौसेना और वायु सेना में काम के दौरान प्राप्त होने वाले कौशल प्रशिक्षण को भी मान्यता दी जाएगी। अग्नि वीर सैनिकों के लिए तैयार किए गए इस शैक्षणिक कार्यक्रम के अंतर्गत सैन्य सेवा कौशल को 50 वेटेज दिया जाएगा। शेष 50 फीसदी वेटेज सैनिकों विश्वविद्यालय में प्रदर्शन पर पर आधारित होगा। अग्नि वीर सैनिकों को उपलब्ध कराए जाने वाला यह शैक्षणिक कार्यक्रम ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड में आयोजित कराया जाएगा।
  • भारतीय वायुसेना का युद्ध और एयरोस्पेस रणनीति कार्यक्रम(23:03)
    नई दिल्ली, 23 जून (आईएएनएस)| भारतीय वायु सेना 24 जून को नई दिल्ली स्थित वायु सेना सभागार में एक कैपस्टोन सेमिनार (संगोष्ठी) के साथ पहला युद्ध और एयरोस्पेस रणनीति कार्यक्रम (डब्ल्यूएएसपी) आयोजित कर रही है। यह सेमिनार कॉलेज ऑफ एयर वारफेयर एंड सेंटर फॉर एयर पावर स्टडीज के अधीन आयोजित किया जाएगा। इस अवसर पर वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी अपना मुख्य भाषण देंगे।
  • सेना में रेजिमेंटल सिस्टम बरकरार रहेगा : केंद्र सरकार(17:47)
    नई दिल्ली, 21 जून (आईएएनएस)| सैन्य मामलों के विभाग के अतिरिक्त सचिव लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी ने मंगलवार को कहा कि अग्निवीरों की भर्ती प्रक्रिया में कोई बदलाव नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि सेना में पारंपरिक रेजीमेंट सिस्टम जारी रहेगा।