शिक्षा/कला/संस्कृति/किताबें


  • एनआईटी ने प्लेसमेंट के रिकॉर्ड तोड़े, 20 छात्रों को 46.08 लाख रुपये वार्षिक का ऑफर(20:28)
    नई दिल्ली, 29 जून (आईएएनएस)| 1274 जॉब ऑफर के साथ, एनआईटी राउरकेला ने प्लेसमेंट के अपने ही सभी पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। यहां 20 से अधिक छात्रों को 46.08 लाख रुपये का औसत वार्षिक वेतन ऑफर मिला है। यह अब तक का सबसे बड़ा ऑफर है। 40,000 से लेकर उच्चतम 1.25 लाख रूपए प्रति माह लगभग के औसत वजीफा के साथ कुल 403 इंटर्नशिप की भी पेशकश की गई है।
  • जुलाई की शुरुआत में आएंगे सीबीएसई बोर्ड की 10वीं व 12वीं की परीक्षाओं के नतीजे(14:05)
    नई दिल्ली, 29 जून (आईएएनएस)| केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई को 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट जारी करना है। बोर्ड की इन दोनों ही कक्षाओं का रिजल्ट अब अगले महीने जुलाई में जारी किया जाएगा। सीबीएसई बोर्ड के मुताबिक जुलाई के पहले सप्ताह में दसवीं कक्षा का रिजल्ट घोषित करने की तैयारी है। इसके बाद 12वीं कक्षा का रिजल्ट जारी किया जाएगा।
  • हिमाचल को 52 साल में मिला दूसरा राज्य विश्वविद्यालय(18:37)
    मंडी, 28 जून (आईएएनएस)| हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने मंगलवार को यहां राज्य द्वारा संचालित विश्वविद्यालय सरदार पटेल विश्वविद्यालय के दो ब्लॉकों का उद्घाटन कर इसे औपचारिक रूप से लोगों को समर्पित कर दिया। राज्य को 52 वर्षो में यह दूसरा राज्य विश्वविद्यालय मिला है।
  • टीचर्स फोरम की मांग : डीयू के कुलपति प्रोफेसर काले कमेटी की रिपोर्ट लागू करवाएं(14:32)
    नई दिल्ली, 28 जून (आईएएनएस)| दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) एससी एसटी ओबीसी टीचर्स फोरम ने वाइस चांसलर से शिक्षकों की स्थायी नियुक्तियों से पूर्व रोस्टर, काले कमेटी की रिपोर्ट, 10 फीसदी अतिरिक्त ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू करते हुए व विज्ञापनों की सही से जांच कराने के लिए एक पांच सदस्यीय उच्चस्तरीय कमेटी बनाने की मांग की है। शिक्षकों का कहना है कि कमेटी में वरिष्ठ प्रोफेसर्स, पूर्व विद्वत परिषद सदस्य के अलावा रोस्टर की जानकारी रखने वालों को रखा जाए और यह कमेटी अपनी रिपोर्ट एक महीने के अंदर दे।
  • एक राज्य के छात्र दूसरे राज्यों में जाकर जानेंगे वहां की शिक्षा प्रणाली और संस्कृति(22:55)
    नई दिल्ली, 27 जून (आईएएनएस)| केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने देश भर के छात्रों को आपस में संपर्क बनाने के लिए एक नया मंच प्रदान किया है। शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक एक भारत श्रेष्ठ भारत के अंतर्गत देश के अलग-अलग हिस्सों के छात्र आपस में परस्पर सहयोग व संपर्क बना सकेंगे। इस योजना के अंतर्गत एक राज्य के छात्र बकायदा दूसरे राज्यों में जाकर वहां नया अनुभव प्राप्त करेंगे।
  • विश्वविद्यालय के छात्रों ने प्रौद्योगिकी और युवाओं के लिए अवसरों पर केंद्रीय मंत्री से पूछे सवाल(22:48)
    नई दिल्ली, 27 जून (आईएएनएस)| केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी, कौशल विकास राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने निरमा विश्वविद्यालय के एक छात्र के पूछे गए प्रश्नों में से एक के उत्तर में कहा कि इन दिनों स्टार्टअप्स कोई फैशन नहीं, बल्कि एक नया चलन (एक ऐसा चलन जो अब सामान्य रूप ले चुका है) है। ये पिछले 8 वर्षों में नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई सक्रिय नीतियों और सुधारों की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था में आए गहरे संरचनात्मक परिवर्तनों से उभरने वाली नई वास्तविकता है।
  • स्कूलों को लेकर शिक्षा मंत्रालय की ग्रेडिंग राजस्थान के स्कूल अव्वल(22:42)
    नई दिल्ली, 27 जून (आईएएनएस)| केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने 2018-19 और 2019-20 के लिए जिला निष्पादन ग्रेडिंग सूचकांक (पीजीआई-डी) रिपोर्ट जारी की है। यह जिला स्तर पर स्कूल शिक्षा का आकलन करती है। इसमें राजस्थान ने उत्कर्ष ग्रेड में 100 में 81 से 90 प्रतिशत की रेंज में अंक हासिल किए हैं। इस रिपोर्ट के मुताबिक विभिन्न श्रेणियों में राजस्थान के तीन जिले स्कूली शिक्षा में प्रदर्शन में अग्रणी है, जिसमें झुंझुनू, जयपुर व सीकर शामिल हैं।
  • यूजीसी नेट का शेड्यूल लंबे इंतजार के बाद जारी, परीक्षाएं 8 जुलाई से 14 अगस्त तक होंगी(11:10)
    नई दिल्ली, 27 जून (आईएएनएस)| लंबे समय से इंतजार कर रहे देशभर के लाखों छात्रों के लिए यूजीसी नेट का शेड्यूल जारी कर दिया गया है। यूजीसी नेट परीक्षा के विषय में जानकारी देते हुए यूजीसी चेयरमैन एम जगदीश कुमार ने बताया कि जून 2022 और दिसंबर 2021 के संयुक्त सत्र के लिए शेड्यूल तैयार किया गया है। यह परीक्षा 8 जुलाई से 14 अगस्त तक होगी। देशभर में अलग-अलग जगहों पर परीक्षा केंद्रों की कुल संख्या में 100 फीसदी से भी अधिक की वृद्धि की गई है।
  • दिल्ली विश्वविद्यालय, शिक्षकों के समायोजन के लिए अध्यादेश लाए सरकार: डूटा(22:00)
    नई दिल्ली, 26 जून (आईएएनएस)| दिल्ली विश्वविद्यालय और सम्बद्ध कॉलेजों में लगभग साढ़े चार हजार से अधिक तदर्थ व अस्थाई शिक्षक विभिन्न पूर्णकालिक, अनुमोदित और स्वीकृत पदों पर असुरक्षित नौकरी और सामाजिक असुरक्षा के बीच कार्य कर रहे हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ यानी डूटा ने विश्वविद्यालय के विभिन्न कॉलेजों में कार्यरत इन तदर्थ शिक्षकों के समायोजन की मांग दोहराई है। अपनी इस मांग को लेकर दिल्ली विश्वविद्यालय के तमाम शिक्षक धरना प्रदर्शन भी कर रहे हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ का कहना है कि दिल्ली विश्वविद्यालय में शिक्षकों की मौजूदा स्थिति को तुरंत सही किया जाना चाहिए। जरूरत पड़ने पर इसके लिए सरकार अध्यादेश लेकर आए।
  • दिल्ली के स्कूलों में 'नो-डिटेंशन' नीति खत्म करने के खिलाफ हैं अभिभावक(13:39)
    नई दिल्ली, 26 जून (आईएएनएस)| दिल्ली सरकार ने स्कूलों में 'नो-डिटेंशन' नीति को खत्म करने की एक पहल की गई है। इस समय शिक्षा के अधिकार (आरटीई) नियमों के तहत कोई भी बच्चा कक्षा 8 तक फेल नहीं होता है। अब यह राज्यों पर निर्भर है कि वे इस नीति को जारी रखना चाहते हैं या नहीं। दिल्ली सरकार ने आठवीं कक्षा तक के बच्चों के लिए 'नो-डिटेंशन पॉलिसी' को हटाने का निर्णय लिया है। इसके लागू होने पर पढ़ाई में कमजोर छात्रों को उनकी कक्षा में रोका या फेल किया जा सकेगा।
  • अग्निवीर सैनिको के लिए तैयार की गई शैक्षिक योजना(22:04)
    नई दिल्ली, 24 जून (आईएएनएस)| शिक्षा मंत्रालय की मदद से इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) ने अग्निवीर सैनिको के लिए शैक्षिक योजना तैयार की है। यह अग्निपथ योजना के सैनिकों के लिए तीन वर्षीय स्नातक पाठ्यक्रम होगा। किताबी पढ़ाई के अलावा यह कार्यक्रम में थल सेना, नौसेना और वायु सेना में काम के दौरान प्राप्त होने वाले कौशल प्रशिक्षण को भी मान्यता दी जाएगी। अग्नि वीर सैनिकों के लिए तैयार किए गए इस शैक्षणिक कार्यक्रम के अंतर्गत सैन्य सेवा कौशल को 50 वेटेज दिया जाएगा। शेष 50 फीसदी वेटेज सैनिकों विश्वविद्यालय में प्रदर्शन पर पर आधारित होगा। अग्नि वीर सैनिकों को उपलब्ध कराए जाने वाला यह शैक्षणिक कार्यक्रम ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड में आयोजित कराया जाएगा।