समाज/धर्म/जीवनशैली


  • होली न होती तो बुंदेलखंड का क्या हाल होता!(20:06)
    संदीप पौराणिक
    झांसी/छतरपुर, 30 मार्च (आईएएनएस)| कोरोनावायरस के संक्रमण की हर तरफ दहशत है, लगातार मरीजों की संख्या और मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है, मगर बुंदेलखंड से एक सुखद खबर आ रही है, क्योंकि होली के चलते यहां से पलायन करने वालों में से आधे से ज्यादा लोग अपने अपने गांव लौट चुके थे और अब जो लौट रहे हैं, उनकी संख्या काफी कम है। सवाल उठ रहा है कि अगर होली न होती और कटाई का मौसम न होता तो बुंदेलखंड के हालात क्या होते!
  • कोविड19 : रविवार को दिल्ली में आए 23 नए मामले(23:57)
    नई दिल्ली, 29 मार्च (आईएएनएस)| रविवार को राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस से ग्रसित व्यक्तियों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। बीते 24 घंटे के दौरान दिल्ली में कोरोना वायरस के 23 नए मामले सामने आए हैं। तेजी से सामने आए इन नए मामलों के साथ ही दिल्ली में अभी तक कोरोना वायरस के कुल 72 रोगी सामने आ चुके हैं, जिनमें से 2 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है।
  • लॉकडाउन : सीमा सील, फिर भी पैदल यात्रा जारी(21:10)
    आनंद सिंह
    नई दिल्ली, 29 मार्च (आईएएनएस)| दिल्ली और उससे सटे गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में रविवार को कई स्थानों पर हजारों की संख्या में मजदूर फंसे नजर आए, क्योंकि सरकार ने राज्यों को 21 दिन के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को कड़ाई से पालन करवाने और शहरों में लोगों की आवाजाही को रोकने के लिए कहा है।
  • छत्तीसगढ़ बेहतर ढंग से लड़ रहा कोरोना से जंग(20:57)
    रायपुर, 29 मार्च (आईएएनएस)| छत्तीसगढ़ कोरोना महामारी के खिलाफ जंग बेहर्त ढंग से लड़ रहा है। प्रशासनिक अधिकारियों का दावा है कि समय रहते प्रदेश की सीमाएं सील करने सहित कई जरूरी फैसले लिए गए, यही वजह है कि राज्य में कोरोना नियंत्रण की स्थिति अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर है।
  • कोरोना का कहर : मजदूरों की घर वापसी से बुंदेलखंड में संक्रमण का खतरा!(20:06)
    आर. जयन
    बांदा, 29 मार्च (आईएएनएस)| कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश बुधवार से लॉकडाउन है। ऐसे में विभिन्न महानगरों में रहकर बसर करने वाले करीब दस लाख बुंदेली मजदूरों के सामने रोटी-रोजगार का संकट खड़ा हो गया है और वे अब बड़ी संख्या में घर वापसी कर रहे हैं, जिससे बुंदेलखंड़ में कोरोनावायरस के संक्रमण के बढ़ने के आसार बढ़ गए हैं।
  • हरियाणा में नाकाबंदी कर रोका जाएगा श्रमिकों का पलायन(12:23)
    नई दिल्ली, 29 मार्च (आईएएनएस)| पलायन कर रहे श्रमिकों को हरियाणा सरकार अब सुरक्षित कैंपों तक ले जाने का काम करेगी। ये वे श्रमिक हैं जो हरियाणा में कार्यरत थे और अब अपने-अपने राज्यों के लिए पैदल ही निकल पड़े हैं। सड़कों पर निकले इन श्रमिकों को सरकार वापस लौटने के लिए प्रेरित करेगी और इन्हें हरियाणा के विभिन्न जिलों में बनाए गए कैंपों में सुरक्षित रखा जाएगा।
  • हाथ नहीं, पैरों से उड़ान भर रहा दिव्यांग अमर बहादुर(10:16)
    विवेक त्रिपाठी
    अमेठी, 29 फरवरी (आईएएनएस)| किसी ने ठीक ही कहा है, यदि हमारी उड़ान देखनी हो, तो आसमां से कह दो कि वो अपना कद और ऊंचा कर ले। इस कहावत को चरितार्थ कर दिखाया है, उत्तर प्रदेश के अमेठी के अमर बहादुर ने। अमर बहादुर दोंनों होंथों से लाचार हैं, लेकिन उनके हौसलों में कमी नहीं है। उनकी पढ़ाई के बीच में हाथ कभी बाधा नहीं बने। पैरों से लिखकर उन्होंने हाईस्कूल की परीक्षा पास की है।
  • 84 कोसी परिक्रमा पर कोरोना का ग्रहण(23:51)
    अयोध्या, 28 मार्च(आईएएनएस)| कोरोना वायरस ने इस बार अयेाध्या में होने वाली 84 कोसी परिक्रमा पर ग्रहण लगा दिया है। हनुमान मंडल के बैनर तले श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास और मंत्री चम्पत राय के साथ हुई शीर्ष संतों और विश्व हिन्दू परिषद के पदाधिकारियों की बैठक के बाद 84 कोसी परिक्रमा को स्थगित करने का निर्णय लिया गया।
  • नोएडा में 5 और संक्रमित मिले, डीएम का आदेश, किराया वसूलने वाले मकान मालिकों को होगी जेल(17:59)
    संजीव कुमार सिंह चौहान
    गौतमबुद्ध नगर, 28 मार्च (आईएएनएस)| राष्ट्रीय राजधानी से सटे उत्तरप्रदेश के नोएडा-ग्रेटर नोएडा शहरों में शनिवार को 5 और कोरोना संक्रमित मिल गए। हर दिन बढ़ रहे कोरोना पीड़ितों और महामारी से पैदा हुई आमजन की मुसीबतों के मद्देनजर जिला प्रशासन ने कई कठोर कदम भी शनिवार को उठाए। जिलाधिकारी ने एक आदेश जारी कर कहा है कि, कोई भी मकान मालिक अगर विपदा की इस घड़ी में किरायेदार से भाड़े/किराये की वसूली और फिर वसूली की कोशिश भी करता पाया गया, तो उसे एक साल की जेल होना तय है।
  • लॉकडाउन के समर्थन में उतरा गुरुग्राम(17:47)
    गुरुग्राम, 28 मार्च (आईएएनएस)| कोरोनावायरस के चलते पूरे देश में 21 दिवसीय लॉकडाउन चल रहा है और इससे निपटने और संक्रमण फैलने से रोकने के लिए राज्य व केंद्र सरकार प्रयास कर रही है। ऐसी स्थिति में गुरुग्रामवासी भी लॉकडाउन का समर्थन कर अपने सामथ्र्य से हर संभव कोशिश कर रहे हैं, ताकि जरूरतमंदों को मदद सके।