समाज/धर्म/जीवनशैली


  • अमिताभ बच्चन के पैतृक गांव को है उनका इंतजार(15:22)
    प्रतापगढ़ (उप्र), 23 अक्टूबर (आईएएनएस)| बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन का जन्म उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के 'बाबू पट्टी' में हुआ था। उनके गांव के लोग महानायक का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।
  • मप्र में बच्चों का तनाव मिटाने के लिए बाल आयोग की पहल(13:12)
    भोपाल, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)| कोरोना के चलते बच्चों को मानसिक समस्याओं के दौर से गुजरना पड़ रहा है। बच्चों की समस्याओं के निदान के लिए मध्य प्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने पहल करते हुए संवेदना नाम से टोल फ्री टेली काउंसिलिंग शुरु की है।
  • 236 लोगों के बौद्ध धर्म अपनाने के बाद पुलिस ने दर्ज की एफआईआर(09:56)
    नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)| गाजियाबाद में वाल्मीकि समुदाय के 236 सदस्यों द्वारा बौद्ध धर्म अपनाए जाने के बाद जिला पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ धार्मिक परिवर्तन के लिए अफवाहें फैलाकर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की है। इसी समुदाय से जुड़े एक सदस्य ने इन आरोपों के संबंध में पुलिस से संपर्क किया था।
  • तिब्बत में प्राचीन इतिहास वाला मांगखांग नमक का खेत(18:46)
    बीजिंग, 22 अक्टूबर (आईएएनएस)| तिब्बत स्वायत्त प्रदेश के छांगतु प्रिफेक्च र की मांगखांग कांउटी में लानछांगच्यांग नदी के दोनों तटों पर खड़े ऊंचे पर्वतों की ढलान पर अनोखा ²श्य नजर आता है। कुछ हजार छोटे-छोटे कृत्रिम तालाबों में सफेद-सफेद तरल चीज रखी होती है। जिनमें छिंगहाई तिब्बत पठार में नीले आसमान और सफेद बादल की छाया नजर आती है। कुछ दिन बाद सूर्य की गर्मी और हवा से सूखा तरल पदार्थ धीरे-धीरे क्रिस्टलीकरण के जरिए नमक बन जाता है।
  • नोएडा के डीएलएफ मॉल में बढ़ने लगा फुटफॉल, होने लगी शॉपिंग(15:49)
    गौतमबुद्ध नगर, 22 अक्टूबर (आईएएनएस)| नोएडा सेक्टर 18 स्थित डीएलएफ मॉल ऑफ इंडिया आम जनता के लिए 12 अक्टूबर को खोल गया। इससे पहले कोरोना महामारी के दौरान लगे लॉकडाउन के चलते मॉल को बंद करना पड़ा था। मॉल फिर से खुलने के कुछ दिनों बाद अब भीड़ बढ़ने लगी है और फुटफॉल बढ़ गया है। धीरे धीरे भीड़ और बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है।
  • पीएम मोदी ने दुर्गा पूजा के मौके पर बताया नारी शक्ति का महत्व(13:03)
    नई दिल्ली, 22 अक्टूबर(आईएएनएस)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजन समारोहों में वर्चुअल तरीके से हिस्सा लेते हुए नारी शक्ति के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि नारी शक्ति हमेशा से सभी चुनौतियों को परास्त करने की ताकत रखती है।
  • अयोध्या में और भव्य होगा इस साल का दीपोत्सव(12:49)
    लखनऊ, 22 अक्टूबर (आईएएनएस)| अयोध्या में दिवाली की पूर्व संध्या पर आयोजित होने वाला वार्षिक 'दीपोत्सव' कार्यक्रम मौजूदा महामारी के कारण प्रभावित नहीं होगा। वहीं इस साल यह बड़े पैमाने पर आयोजित किया जाएगा। हालांकि इस बार आयोजन में जन भागीदारी कम होगी।
  • उप्र के इस जिले में घर की नेमप्लेट पर मां, पत्नी या बेटी का नाम(12:03)
    मुजफ्फरनगर (उप्र), 22 अक्टूबर (आईएएनएस)| बच्चियों को सम्मान देने के लिए प्रतीक के तौर पर मुजफ्फरनगर जिले के कई घरों ने अपनी नेमप्लेट पर बेटियों के नाम लिख दिए हैं। बता दें कि यह उन जिलों में से एक है जो अपनी मजबूत पितृसत्तात्मक प्रणाली के लिए जाने जाते हैं।
  • तमिलनाडु में दुकानें अब रात 10 बजे तक खुलेंगी(22:35)
    चेन्नई, 21 अक्टूबर (आईएएनएस)| त्योहारों के मौसम को देखते हुए व राज्य की आर्थिक सुधार सुनिश्चित करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने बुधवार को तमिलनाडु में लॉकडाउन प्रतिबंधों में और ढील देने की घोषणा की।
  • कोविड 19 से नहीं पड़ा साइकिल व्यापार पर असर, फिटनेस फ्रिक लोगों ने पूरी की कसर(19:36)
    नई दिल्ली, 21 अक्टूबर (आईएएनएस)| कोरोना महामारी से सभी व्यापार पर नुकसान हुआ हालांकि इस महामारी के दौरान साइकिल की बिक्री पर बढ़ोतरी हुई। लॉकडाउन के चलते लोग घरों में बंद रहे, लोगों की सेहत पर असर पड़ा और लोगों ने साइकिल खरीदना शुरू की। साइकिल बाजारों में लोगों की भीड़ लगने लगी और व्यापार में बढ़ोतरी देखने को मिली। बढ़ती मांगो को लेकर साइकिल व्यापारी बेहद खुश हैं, लेकिन उनके सामने अब एक नई समस्या खड़ी हो गई है। दरअसल बाजारों में जिस हिसाब से साइकिल की डिमांड बढ़ रही है। उस हिसाब से व्यापारियों के पास सप्लाई नहीं है।
  • एक दिन की पीएम बनती तो बुर्का, हिजाब पर रोक लगा देती : रेशमा खान(18:04)
    अर्चना शर्मा
    जयपुर, 21 अक्टूबर (आईएएनएस)| ऑल इंडिया रेडियो (आकाशवाणी) की प्रोग्राम हेड रेशमा खान भारत में प्रगतिशील महिलाओं की आवाज का प्रतिनिधित्व करती हैं, जो निडर और बुद्धिमान हैं, हाजिरजवाब, विनोदी हैं फिर भी संवेदनशील हैं और जिनका मकसद माता-पिता के सिखाए मूल्यों का अनुसरण करते हुए प्रगति और तरक्की की सीढ़ी चढ़ना है।