इंडिया पॉजिटिव


  • भारतीय 'योद्धा माताएं' अब अंतर्राष्ट्रीय कैडर से जुड़ रही हैं(00:25)
    सुकांत दीपक
    नई दिल्ली, 23 जून (आईएएनएस)| पिछले साल जुलाई में पांच महिलाएं - शेरेबानु फ्रोश (गुरुग्राम), अनुजा बाली (पुणे), नीना सुब्रमण्यम (चेन्नई), मिडिली रविकुमार (कोच्चि) और भावरीन कंधारी (दिल्ली) ने 'योद्धा माताओं' समूह को आकार देना शुरू किया, और 7 सितंबर, 2020 को अपनी उपस्थिति को आधिकारिक बना दिया।
  • बंगाल में संथाल अपनी जड़ों में कर रहे वापसी, खेती में बटाएंगे हाथ(16:35)
    मणि महेश अरोड़ा
    बोलपुर (पश्चिम बंगाल), 14 जून (आईएएनएस)| रवींद्रनाथ टैगोर ने संथाल जनजाति से ताल्लुक रखने वाले लोगों को जिंदगी को जीने के उनके अनूठे तरीके के लिए सम्मानित किया है। उन्होंने अपनी कविताओं, गीतों और नृत्य में इनका जिक्र किया है। पश्चिम बंगाल के ग्रामीण हिस्सों में बसने वाले इन संथालियों के पास जमीन की एक छोटी सी टुकड़ी होती है और ये ज्यादातर धान के खेतों में दिहाड़ी मजदूरी के तौर पर काम करते हैं।
  • तेलंगाना के सांसद का ग्रीन चैलेंज जा रहा है बदलाव(18:11)
    मोहम्मद शफीक
    हैदराबाद, 11 जून (आईएएनएस)| तेलंगाना में राजनेताओं और मशहूर हस्तियों द्वारा जन्मदिन के मौके पर पौधे लगाना इन दिनों एक नया फैशन बन गया है। उनके फॉलोअर्स व फैंस भी माला या गुलदस्ता देने के बजाय सप्रेम पौधा भेंट में दे रहे हैं ताकि समाज और पर्यावरण के लिए कुछ यर्थाथ किया जा सके।
  • कोरोना की जंग में 'पन्ना' के लोग बने मिसाल(12:04)
    संदीप पौराणिक
    भोपाल, 11 जून (आईएएनएस)| ढलती दोपहर, घड़ियों में बजते चार ,बाजारों के बंद होने का सिलसिला और घरों के लौटते लोग। न तो कहीं सायरन का शोर सुनाई देता है, और न ही डंडाधारी जवान नजर आते हैं। यह तस्वीर है मध्यप्रदेश के पन्ना जिले की, जहां के लोग कोरोना के खिलाफ शासन-प्रशासन के निर्देशों का पालन करते हुए इस महामारी के खिलाफ लड़ी जा रही लड़ाई में साथ खड़े नजर आते हैं।
  • झारखंड के किसानों ने भारत में पहली बार अपनाया यूएस फिशिंग 'रेसवे' तकनीक(13:30)
    आनंद सिंह
    नई दिल्ली, 6 जून (आईएएनएस)| केन्द्र सरकार एक ओर जहां सरकार किसानों की आय बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित कर रही है, वहीं भारत के खनिज समृद्ध पूर्वी राज्य झारखंड का एक किसान देश में 'फ्लोटिंग रेसवे टेक्नोलॉजी' को अपनाने वाला देश का पहला किसान बनने के लिए तैयार है। यह खुले तालाबों में मछली पकड़ने के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका की तकनीक है।
  • धान पर निर्भर छत्तीसगढ़ के किसान के बीच उठी लेमनग्रास की महक(13:22)
    बीजापुर, 1 जून (आईएएनएस/101रिपोर्टर्स)। भवानी पाल शाह छत्तीसगढ़ में अपने सुदूर गांव में पहले स्नातकों में से एक थे। साल 2000 में वह पास आउट हुए। जिस वर्ष राज्य का गठन हुआ था और राजस्थान में हरियाली वाले चरागाहों की तलाश में चले गये। वहां एक कृषि फर्म में पंद्रह साल काम करने के बाद, उन्होंने बीजापुर जिले के अपने गांव गुडमा लौटने और खेती करने का फैसला किया। इसके अलावा, अपनी नौकरी के दौरान, उन्होंने बेहतर पैदावार के लिए आधुनिक कृषि तकनीकों के बारे में सीखा था जो कि उनके खेत में अपनाई जा सकती थीं।
  • तेलंगाना की इस महिला ने दिखाई राह(13:22)
    मोहम्मद शफीक
    हैदराबाद, 28 मई (आईएएनएस)| ऐसे समय में जब कोविड महामारी ने लाखों लोगों को नौकरियों से बाहर कर दिया है, तेलंगाना की एक महिला ने संकट के दौरान न केवल अपने छोटे और मध्यम स्टार्टअप को सफलतापूर्वक आगे बढ़ाया, बल्कि 100 से अधिक महिलाओं को नौकरी देने वाली भी बन गई है।