भारत के किसानों की आवाज


  • किसानों ने 24 घंटे बाद खोला केएमपी एक्सप्रेस वे(09:25)
    गाजियाबाद, 11 अप्रैल (आईएएनएस)| संयुक्त किसान मोर्चा के 24 घंटे से बंद किए गए केएमपी एक्सप्रेस वे को रविवार सुबह करीब 8 बजे खोल दिया है। इस एक्सप्रेस वे को गाजीपुर बॉर्डर पर बैठे किसानों ने अब खोल दिया है।
  • केएमपी हाइवे बंद, ट्रॉली, गद्दे और चारपाई लेकर हाइवे पर बैठे किसान(10:20)
    सोनीपत, 10 अप्रैल (आईएएनएस)| कृषि कानून के खिलाफ किसानों को दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन करते हुए आज 135वां दिन है। संयुक्त किसान मोर्चा ने केएमपी हाइवे बंद करने का आह्वान किया है, इसी तर्ज पर सिंघु बॉर्डर से आए किसानों ने 1 नम्बर कुंडली टोल प्लाजा (वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे) सोनीपत को बंद कर दिया है।
  • कृषि कानून पर मुक्कमल अमल से किसानों की आय दोगुनी : रमेश चंद(13:16)
    प्रमोद कुमार झा
    मोदी सरकार की ओर से शुरू किए गए कृषि सुधार और किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करने के लक्ष्य के अलावा खेती-किसानी से जुड़े कुछ अन्य मसलों पर आईएएनएस से विशेष बातचीत में नीति आयोग के सदस्य प्रोफेसर रमेश चंद ने कहा कि नये कृषि कानूनों पर तकरार से करीब एक साल बेकार चला गया। हालांकि किसानों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य हासिल करने के लिए अभी दो साल का वक्त है क्योंकि अभी वित्त वर्ष 2021-22 आरंभ ही हुआ है।
  • बॉर्डर पर अब पूर्व सैनिक संभालेंगे आंदोलन स्थल की सुरक्षा व्यवस्था(10:38)
    गाजीपुर बॉर्डर, 1 अप्रैल (आईएएनएस)| कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन को 126 दिन हो चुके हैं। गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में पूर्व सैनिक भी किसानों के समर्थन में पहले दिन से मौजूद हैं। इसी तर्ज पर किसानों ने ये तय किया है कि आंदोलन स्थल की सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा अब पूर्व सैनिक संभालेंगे।
  • 10 अप्रैल को केएमपी ब्लॉक करेंगे किसान, नया कार्यक्रम जारी(09:53)
    नई दिल्ली, 1 अप्रैल (आईएएनएस)| कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन को 126 दिन हो चुके हैं। ऐसे में किसान लगातार सरकार पर दबाब बनाने के लिए विभिन्न तरह की रणनीति बना रहे हैं। संयुक्त किसान मोर्चा ने ऐलान किया है कि 10 अप्रैल को 24 घंटे के लिए केएमपी ब्लॉक किया जाएगा, वहीं मई के पहले पखवाड़े में संसद कूच किया जाएगा।