राष्ट्रीय


  • ईडी ने एक क्रेडिट सोसाइटी की 3 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति कुर्क की(1 मिनट पहले)
    नई दिल्ली, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)| प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को कहा कि उसने श्री खेतेश्वर अर्बन क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड और उसके निदेशकों की 3,51,09,524 रुपये की चल और अचल संपत्ति को मनी लॉन्ड्रिंग की रोकथाम के मामले में कुर्क किया है। आरोपियों ने लोगों से ज्यादा रिटर्न का झांसा देकर पैसे लिए लेकिन पैसे नहीं लौटाए।
  • खराब गुणवत्ता वाली सड़क का वीडियो आया सामने, ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी की सीईओ ने दिए जांच के आदेश(28 मिनट पहले)
    ग्रेटर नोएडा, 2 दिसंबर (आईएएनएस)| ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी में फैले भ्रष्टाचार का एक वीडियो सामने आया है। ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सेक्टर 2 में अभी हाल फिलहाल में बनाई गई सड़क का एक वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें सड़क की खराब गुणवत्ता को दिखाया गया है और हाथ से ही वह सड़क उखड़ रही है। इस वीडियो के सामने आते ही ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के सीईओ ऋतु महेश्वरी ने जांच के आदेश दिए हैं एक कमेटी का गठन किया है और 3 दिन में रिपोर्ट मांगी है।
  • विकास का द्रविडियन मॉडल अभी पूरी क्षमता तक नहीं पहुंचा है : तमिलनाडु मंत्री(18:49)
    चेन्नई, 2 दिसंबर (आईएएनएस)| तमिलनाडु के वित्त मंत्री पीटीआर पलानीवेल त्यागराजन ने शुक्रवार को कहा कि राज्य को विकास के द्रविडियन मॉडल की पूरी क्षमता तक पहुंचना अभी बाकी है। चेन्नई में वित्त मंत्री पीटीआर पलानीवेल त्यागराजन ने 'द द्रविडियन मॉडल गुड फॉर बिजनेस एंड ह्यूमन डेवलपमेंट' पर एक सेमिनार को संबोधित किया।
  • छत्तीसगढ़ में सीएमओ की उप सचिव सौम्या चौरसिया गिरफ्तार(18:31)
    रायपुर 2 दिसंबर (आईएएनएस)| छत्तीसगढ़ में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए मुख्यमंत्री सचिवालय में तैनात उप सचिव सौम्या चौरसिया को गिरफ्तार किया है। उन पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है। गिरफ्तारी के बाद ईडी उन्हें विशेष न्यायालय में पेश करने वाली है।
  • भारत के सबसे प्रदूषित टॉप 10 शहरों में बिहार की 6 सिटी शामिल(18:26)
    पटना, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)| बिहार के कई जिलों में इन दिनों लोग कम तापमान और हाई वायु प्रदूषण के कारण गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का सामना कर रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार, आंखों में जलन और सांस लेने में परेशानी की शिकायत के कारण लोगों को घरों के भीतर रहने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। बीते कुछ दिनों में बिहार के तीन से पांच शहर लगातार देश में सबसे खराब वायु गुणवत्ता सूचकांक के मामले में टॉप पर आ रहे हैं।
  • मस्क के दखल के बाद प्रणय पथोले का ट्विटर अकाउंट बहाल(17:41)
    नई दिल्ली, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)| प्रणय पथोले का ट्विटर अकाउंट, जिसे माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म द्वारा 1 दिसंबर को निलंबित कर दिया गया था, शुक्रवार को उनके ट्विटर मित्र एलन मस्क के हस्तक्षेप के बाद बहाल कर दिया गया।
  • असम सरकार 1,100 लकड़ी के पुलों को कंक्रीट में बदलेगी(17:25)
    गुवाहाटी, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)| असम सरकार ने राज्य में सड़क संपर्क को बेहतर बनाने के लिए लकड़ी के पुलों को कंक्रीट में बदलने का फैसला किया है। एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि 1,100 लकड़ी के पुलों को कंक्रीट में बदलने का फैसला किया है ताकि पूरे राज्य में सड़क संपर्क को बेहतर बनाया जा सके।
  • बिहार : प्रसिद्ध सोनपुर मेला में जमकर आए सैलानी, खूब हो रही खरीददारी(17:21)
    हाजीपुर, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)| विश्व प्रसिद्ध सोनपुर मेले में इस साल सैलानी भी पहुंचे और खरीददारी भी खूब हुई। इस कारण विक्रेता भी इस साल खुश नजर आ रहे हैं। वैसे, पशु मेले के रूप में प्रसिद्ध इस मेले में जानवरों को लेकर हुई पाबंदियों के कारण मेले में पशु प्रेमियों की संख्या कम जरूर हुई है।
  • भोपाल गैस पीड़ितों को राज्य सरकार के वादे पूरे होने का इंतजार(17:04)
    भोपाल, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)| मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 36 साल पहले हुए दुनिया की सबसे बड़ी औद्योगिक त्रासदी के जख्म अब भी हरे हैं। बीते कई वर्षों में अपने हक की लड़ाई लड़ने वालों से राज्य सरकार से कई वादे किए मगर वे पूरे नहीं हुए, उसके बावजूद लोगों को इस बात की आस है कि राज्य सरकार अपने वादों को पूरा करेगी।
  • भोपाल गैस त्रासदी: वारेन एंडरसन कैसे देश छोड़कर भागा, राजीव गांधी पर लगे थे मदद के आरोप(17:00)
    संकेत पाठक
    नई दिल्ली, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)| मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 2-3 दिसंबर 1984 यानी आज से 38 साल पहले एक दर्दनाक हादसा हुआ था। इतिहास में जिसे भोपाल गैस त्रासदी का नाम दिया गया। ठीक 38 साल पहले भोपाल स्थित यूनियन कार्बाइड नामक कंपनी के कारखाने से एक जहरीली गैस का रिसाव हुआ, जिसमें सरकारी आंकड़ों के मुताबिक 3 हजार से अधिक लोगों की जान गई। कई लोग शारीरिक अपंगता से लेकर अंधेपन के भी शिकार हुए, जो आज भी त्रासदी की मार झेल रहे हैं। मगर इस हादसे का मुख्य आरोपी वारेन एंडरसन देश छोड़कर भागने में सफल रहा और कभी उसे वापस नहीं लाया जा सका।